Home फीचर बैठे-बैठे इस अभिनेता को आया शादी का ख्याल तो बिना परिवार-दोस्तों के...

बैठे-बैठे इस अभिनेता को आया शादी का ख्याल तो बिना परिवार-दोस्तों के मंदिर में पहुंच गया ये अभिनेता, लिपस्टिक से भरी पत्नी की मांग और लिए सात फेरे

109
0

अक्सर आपने फिल्म और टीवी सीरियलों में देखा होगा कि लोग अचानक से प्यार में पड़कर शादी कर लेते हैंय आज हम आपको एक ऐसे अभिनेता के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे बैठे-बैठे ही शादी का ख्याल आया, तो इस अभिनेता ने बिना परिवार और दोस्तों के मंदिर में पहुंचकर शादी कर ली. इतना ही नहीं इस अभिनेता ने लिपस्टिक से अपनी पत्नी की मांग भरी और सात फेरे लिए थे.

हम जिस अभिनेता की बात कर रहे है वो कोई और नहीं बल्कि 50-60 के दशक के दिग्गज अभिनेता रहे शम्मी कपूर है. शम्मी कपूर ने बड़े पर्दे पर कई अभिनेत्रियों के साथ काम किया. लेकिन उनकी प्रेम कहानी बहुत ही संघर्ष भरी रही. शम्मी कपूर 50 के दशक की टॉप अभिनेत्रियों में शुमार गीता बाली को अपना दिल दे बैठे. फिल्म रंगीन रातें के सेट पर दोनों की मुलाकात हुई. यहीं से दोनों एक-दूसरे के प्यार में पड़ गए.

इसके बाद दोनों ने फिल्म रानीखेत में काम किया. इस फिल्म के शेड्यूल के दौरान शम्मी कपूर रोज गीता से पूछते थे कि वो उनसे प्यार करते हैं. वो क्या उनसे शादी करेंगी लेकिन गीता हां नहीं कहती थी. एक दिन अचानक से गीता ने शम्मी कपूर से कहा- चलो शादी करते हैं. शम्मी कपूर एकदम खुश गए.

लेकिन गीता ने शम्मी कपूर से कहा- उनको शादी आज ही करनी है. शम्मी कपूर चौक गए. बोले ऐसा कैसे हो सकता है? गीता बोली- क्यों जॉनी वॉकर ने नहीं की थी पिछले हफ्ते? इस पर शम्मी कपूर ने कहा- बहुत अच्छा, चलो ,शम्मी कपूर बोले- हम लोग प्यार में पड़ गए हैं और शादी करना चाहते हैं. ठीक तुम्हारी तरह, बोलो कैसे करें? इसके बाद शम्मी कपूर गीता बाली को लेकर मंदिर लेकर गए.

जिसके बाद इस कपल ने मंदिर में शादी की थी. शादी के बाद कुछ समय तक इनके घरवाले नाराज रहे. लेकिन बाद में वो मान गए. आपको जानकर काफी हैरानी होगी कि शम्मी कपूर ने 1955 में जब गीता बाली से शादी की थी तो उन्होंने लिपस्टिक से उनकी मांग भरी थी. खुद अभिनेत्री गीता बाली ने ही अपने पर्स से शम्मी कपूर को लिपस्टिक निकालकर अपनी भांग भरने के लिए दी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here