Home फीचर रितेश देशमुख को सीएम का बेटा होने की वजह से अनदेखा करती...

रितेश देशमुख को सीएम का बेटा होने की वजह से अनदेखा करती थीं जेनेलिया डिसूजा, इस तरह शुरू हुई प्रेम कहानी

361
0

बॉलीवुड अभिनेत्री जेनेलिया डिसूजा आज अपना 33वां जन्मदिन मना रही हैं. 5 अगस्त, 1987 को मुंबई में जन्मीं जेनेलिया ने 15 साल की उम्र में भी मॉडलिंग करना शुरू कर दिया था. जेनेलिया ने अपनी पहली ही फिल्म ‘तुझे मेरी कसम’ से लोगों के दिलों में अपनी खास जगह बना ली. उन्होंने 10 साल के फिल्मी करियर में हिंदी, तेलुगू, तमिल, कन्नड़ और मलयालम भाषा की कई फिल्में कीं.

जेनेलिया और रितेश देशमुख की लव स्टोरी बेहद फिल्मी है. जेनेलिया, रितेश से पहली बार हैदराबाद एयरपोर्ट पर मिली थीं. उस समय रितेश के पिता विलासराव देशमुख महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री थे. जेनेलिया जब रितेश से पहली बार मिलीं तो उन्हें अनदेखा करती रहीं. उनको लगता था कि रितेश मुख्यमंत्री के बेटे हैं और उनका व्यवहार दबंग किस्म का होगा. इसका खुलासा जेनेलिया ने खुद एक इंटरव्यू में किया था.

लेकिन जब फिल्म ‘तुझे मेरी कसम’ के सेट पर दोनों की मुलाकात हुई तो दोनों के बीच दोस्ती हो गई. यहीं से दोनों की प्रेम कहानी शुरू हुई. इसके बाद जेनेलिया और रितेश ने फिल्म ‘मस्ती’ में एक साथ काम किया. खबरों की मानें तो रितेश पहली ही फिल्म के बाद जेनेलिया से सगाई करना चाहते थे. लेकिन रितेश के पिता विलासराव देशमुख इसके लिए राजी नहीं थे.

बता दें कि दोनों ने 2012 में फिल्म ‘तेरे नाल लव हो गया’ में फिर से एक साथ काम किया. इसके बाद उनके अफेयर की खबरों ने फिर से जोर पकड़ लिया. आखिरकार 3 फरवरी, 2012 को इस कपल ने शादी कर ली. बता दें कि जेनेलिया और रितेश के दो बेटे हैं, जिनका नाम रियान और राहिल हैं. जेनेलिया ने शादी के बाद फिल्मों से दूरी बना ली है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here