एशिया के सबसे धुरंधर खिलाड़ियों को मिलाकर बनाई गई सबसे खतरनाक प्लेइंग XI, इसे नहीं हरा सकती कोई भी टीम

एशिया कप 1984 में शुरू हुआ था. एशिया कप टूर्नामेंट में एशियाई देशों की टीमें ही खेलती हैं. अब तक के इतिहास में 14 बार एशिया कप टूर्नामेंट का आयोजन हो चुका है और 15वां सीजन 27 अगस्त से शुरू होने जा रहा है. एशिया कप 2022 की शुरुआत से पहले हम आपके लिए लेकर आए हैं एशिया के धुरंधर खिलाड़ियों से मिलाकर बनाई गई सबसे खतरनाक प्लेइंग इलेवन, जिसे हराना दुनिया की बड़ी-बड़ी टीमों के लिए बहुत ही मुश्किल होगा, या कह लीजिए लगभग नामुमकिन होगा. इस टीम में हमने उन खिलाड़ियों को रखा है, जिन्होंने एशिया कप में शानदार प्रदर्शन किया.

ओपनर बल्लेबाज

हमने एशिया की सबसे खतरनाक प्लेइंग इलेवन में ओपनर बल्लेबाज के रूप में श्रीलंका के सनथ जयसूर्या के साथ भारत के दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर को रखा है. दोनों ही अपने-अपने समय के बेहतरीन ओपनर बल्लेबाज रहे और इनको टक्कर देने वाला कोई दूसरा खिलाड़ी पैदा नहीं हुआ.

मध्यक्रम बल्लेबाज

मध्यक्रम में नंबर 3 पर हमने कुमार संगकारा को चुना है. कुमार संगकारा एशिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक रहे हैं. नंबर चार पर इस टीम में विराट कोहली को जगह दी गई है. विराट कोहली को टीम में जगह क्यों दी गई है, यह बताने के लिए उनके आंकड़े ही काफी हैं.

ऑलराउंडर

ऑलराउंडर के रूप में इस टीम में नंबर पांच पर पाकिस्तान के दिग्गज क्रिकेटर शाहिद अफरीदी को चुना गया है. भले ही आफरीदी अपने विवादित बयानों की वजह से सुर्खियां बटोरते हो. लेकिन वह ऑलराउंडर के रूप में बहुत सफल रहे. शाहिद अफरीदी के अलावा बांग्लादेश के शाकिब अल हसन को भी इस प्लेइंग इलेवन में ऑलराउंडर के रूप में चुना गया है.

विकेटकीपर

विकेटकीपर के रूप में इस टीम में महेंद्र सिंह धोनी को रखा गया है. धोनी से बेहतरीन विकेटकीपर एशिया में आज तक पैदा नहीं हुआ है.

गेंदबाज

एशिया की बेस्ट प्लेइंग इलेवन में तेज गेंदबाजों के रूप में लसिथ मलिंगा और वसीम अकरम को रखा गया है. जबकि स्पिन गेंदबाजी के लिए मुथैया मुरलीधरन और अजंता मेंडिस पर भरोसा जताया है.

एशिया की सबसे खतरनाक प्लेइंग इलेवन

सनथ जयसूर्या, सचिन तेंदुलकर, कुमार संगकारा, विराट कोहली, शाहिद अफरीदी, शाकिब अल हसन, महेंद्र सिंह धोनी, अजंता मेंडिस, मुथैया मुरलीधरन, वसीम अकरम, लसिथ मलिंगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.