पंचांगों से जानें दिल्ली, मेरठ, गोरखपुर, शिमला, हरिद्वार में मकर संक्रांति की तिथि

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार आमतौर पर मकर संक्राति 14 जनवरी को मनाई जाती है। लेकिन कई बार ग्रहों की दिशा में बदलाव के कारण मकर संक्रांति की तिथि में भी परिवर्तन हो जाता हैं। जिससे लोग कन्फ्यूज हो जाते हैं की उन्हें मकर संक्रांति किस तिथि को मनानी हैं।

पंचांगों के अनुसार इस बार मकर संक्रांति का पुण्यकाल 14 जनवरी दोपहर दो बजकर 43 मिनट से शुरू हो रहा है। ऐसे में श्रद्धालु 15 जनवरी को पर्व मनाएंगे। हालांकि इसको लेकर कई पंचांगों की राय भी अलग-अलग बताई जा रही हैं।

बनारस पंचांग के जानकार बताते हैं की उदया तिथि में संक्रांति मनाना चाहिए। यानि की14 जनवरी दोपहर में सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करने के बाद उदयातिथि 15 जनवरी को पड़ेगा। इसलिए लोगों को इस दिन मकर संक्रांति मनानी चाहिए।

वहीं मिथिला पंचांग के जानकार बताते हैं की सूर्य धनु से मकर राशि में 14 जनवरी को ही प्रवेश कर रहा है। इसलिए 14 जनवरी को ही संक्रांति मनाया जाना चाहिए। हालांकि दिल्ली, मेरठ, गोरखपुर, शिमला, हरिद्वार में कुछ लोग अपने पंचांग के अनुसार 14 को तो कुछ लोग 15 को मकर संक्रांति मनाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.