बिहार के गंगा नदी पर बनने वाले इस फोरलेन पुल के निर्माण का रास्‍ता साफ हो गया है, जानिए कहाँ बन रहा है /

सुल्तानगंज से अगवानी के बीच निर्माणाधीन फोरलेन गंगा पुल के निर्माण में बार-बार आ रही बाधा और गतिरोध समाप्त हो गया। किसानों को राजी कर निर्माण कार्य को हरी झंडी दे दी गई है। सदर एसडीएम धनंजय कुमार, डीएसपी ला एंड आर्डर डाक्टर गौरव कुमार, सहायक एसडीएम अन्नू कुमारी सीओ शंभू शरण राय,सर्किल इंस्पेक्टर रतनलाल ठाकुर ने प्रोजेक्ट कार्यालय में पहुंचकर रैयत किसान संघर्ष समिति के प्रतिनिधियों के साथ बंद कमरे में वार्ता की। किसानों के साथ चली मैराथन बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। लंबी बैठकों के बाद पदाधिकारी और किसान बाहर निकले और पैदल ही निर्माण स्थल पर रवाना हुए। निर्माण स्थल पर पहुंचने के बाद पदाधिकारी और रैयत किसानों ने एक साथ पत्रकारों को संबोधित किया। सदर एसडीएम ने बताया कि बैठक के बाद निष्कर्ष निकाल लिया गया है। पुल निर्माण का कार्य नहीं रुकेगा। अंडरपास और एप्रोच पथ के काम में तेजी आएगा, ताकि तय सीमा के अंदर पुल निर्माण का कार्य पूरा कराया जा सके।

उन्होंने बताया कि जिला पदाधिकारी ने भी मामले को लेकर अपना रुख अख्तियार कर लिया है। फिलहाल किसानों के साथ बैठक के बाद कार्य को चालू करवा दिया गया है। निर्माण कार्य चालू रहेगा और अंडरपास का निर्माण होगा। इसी बीच सदर एसडीएम और रैयत किसानों की एक टीम लारा कोर्ट जाएगी। विकास के काम में सभी को साथ लेकर चलना है।किसान भी बात मानने को तैयार हैं।कई दौर की बैठकों के बाद भी किसानों के मन में शंका था। जिसे अब दूर कर लिया गया है।

जुलाई 2022 में पूरा होना है काम

गौरतलब है कि सुल्तानगंज और अगवानी के बीच निर्माणाधीन फोरलेन गंगा पुल का निर्माण कार्य जुलाई 2022 में पूरा होना है। बीते 12 दिसंबर को जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने वरीय पुलिस अधीक्षक नताशा गुडिय़ा समेत अधीनस्थ अधिकारियों के साथ निरीक्षण कर पुल निर्माण करा रहे एजेंसी को साफ निर्देश दिया था कि हर हाल में जुलाई तक कार्य पूरा करा लें। विदित हो कि इससे पूर्व कई बार डेडलाइन को बढ़ाया जा चुका है।

एसडीएम ने खड़े होकर शुरू करवाया काम

किसानों से वार्ता के बाद सदर एसडीएम धनंजय कुमार ने खड़े होकर के एप्रोच पथ के निर्माण का कार्य शुरू करवा दिया। इधर डीएसपी विधि व्यवस्था डाक्टर गौरव मिश्रा ने बताया कि काफी संख्या में रैपिड एक्शन फोर्स मौके पर तैनात थे। ताकि विधि व्यवस्था की कोई भी समस्या उत्पन्न ना हो। जिस की मानीटङ्क्षरग सर्किल इंस्पेक्टर रतन लाल ठाकुर करेंगे। वहीं दारोगा विनोद कुमार मौके पर मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.