बिहार में एक साथ होगी सवा लाख शिक्षकों की नियुक्ति, जानें किन विषयों के शिक्षकों को मिलेगा मौका .!

बिहार में शिक्षक बहाली के मुद्दे पर लगातार सवालों में घिरा रहा बिहार शिक्षा विभाग के मंत्री मंत्री विजय कुमार चौधरी ने स्थिति स्पष्ट कर दी है. बता दे की गुरुवार को विधानसभा में अनुपूरक व्यय विवरणी पर हुई बहस का उत्तर देते हुए उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव की प्रक्रिया समाप्त होते ही करीब सवा लाख शिक्षकों की नियुक्ति होगी.

वे शिक्षा विभाग की अनुपूरक व्यय विवरणी पर हुई बहस का उत्तर दे रहे थे. बिहार शिक्षा विभाग के मंत्री मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि करीब 40 हजार शिक्षकों की बहाली की प्रक्रिया पूरी हो गई है. बिहार सरकार संस्कृत एवं उर्दू शिक्षा को बढ़ावा देगी. इसे देश के किसी अन्य राज्य की तुलना में अधिक बेहतर बनाया जाएगा.

बिहार शिक्षा विभाग के मंत्री मंत्री विजय कुमार चौधरी ने आगे कहा कि पंचायत चुनाव के कारण अभी यह प्रक्रिया बाधित है. स्थिति यह है कि कुछ पंचायतों में शिक्षकों का नियोजन हो चुका है तो कहीं जांच की प्रक्रिया चल रही है, और कुछ में आवेदन की ही प्रक्रिया चल रही है. ऐसे में अगर किसी पंचायत के शिक्षकों को नियुक्ति पत्र दे दिया जाए तो फिर वरीयता का मामला आएगा. इसलिए अभ्यर्थी किसी के बहकावे या उकसावे में नहीं आएं. नियुक्ति प्रक्रिया पूरी होते ही सवा लाख शिक्षकों को एक साथ नियुक्ति पत्र दे दिया जाएगा.

बिहार शिक्षा विभाग के मंत्री मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि पंचायत चुनाव के बाद सर्वप्रथम सवा लाख शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया पूरी होगी, इसके बाद 8300 शारीरिक शिक्षा अनुदेशकों की बहाली की जाएगी . इसके लिए पात्रता परीक्षा का आयोजन किया जाएगा. आपको बता दे की शिक्षा के क्षेत्र में बिहार के पिछड़े होने विपक्ष के आरोपों पर बिहार शिक्षा विभाग के मंत्री मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि वर्ष 2005 की स्थिति की तुलना करें तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कार्यकाल में बहुत सुधार हुआ है. प्राथमिक स्कूलों की संख्या 37 हजार से बढ़कर 40 हजार हो गई है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published.