कभी भूखे पेट सड़कों पर सोता था यह लड़का, आज है जाना-माना अभिनेता और नेता

फिल्मी दुनिया में लाखों करोड़ों लोग अपनी किस्मत आजमाने आती हैं, लेकिन इनमें से कुछ भी सफल हो पाते हैं. वहीं कुछ जिंदगी भर स्ट्रगल करते रहते हैं और कुछ असफल होकर वापस लौट जाते हैं. आज हम आपको एक ऐसे मशहूर अभिनेता के बारे में बता रहे हैं जो कभी सड़कों पर भूखे पेट सोता था. लेकिन आज यह लड़का भोजपुरी सिनेमा का मशहूर अभिनेता और नेता है.

हम बात कर रहे हैं भोजपुरी सिनेमा के जान- माने सितारे रवि किशन की. आज रवि किशन किसी पहचान के मोहताज नहीं है. वह भोजपुरी सिनेमा के बादशाह है. रवि किशन की फिल्मों का लोगों को बेसब्री से इंतजार रहता है. लेकिन इस सफल और चमकते कैरियर के पीछे रवि किशन का लंबा संघर्ष और तपस्या छिपी है. रवि किशन का बचपन बहुत गरीबी में बीता. जब रवि किशन गांव की गलियों में घूमा करते थे. तभी से वो बड़े पर्दे पर आने के सपने देखते थे. फिल्मों से रवि किशन को काफी लगा था. लेकिन उनके लिए फिल्मी दुनिया में आना बहुत ही कठिन था.

अपनी एक्टिंग के सपने को पूरा करने के लिए रवि किशन ने सीता के किरदार को भी निभाना स्वीकार किया. दरअसल जब रवि किशन छोटे थे तब वो बहुत गोरे थे और नाटक मंडली में काम करने जाते थे. अक्सर उन्हें लड़की का रोल दिया जाता था. ऐसे में उन्हें रामलीला में सीता का किरदार निभाने का मौका मिला. एक तरफ रवि किशन अभिनेता के तौर पर आगे बढ़ रहे थे. लेकिन उनके पिता को यह बात बिल्कुल भी पसंद नहीं थे. रवि किशन के पिता चाहते थे कि वह पढ़ाई पर ध्यान दें.

एक दिन गुस्से में रवि किशन के पिता ने उनकी पिटाई कर दी. इसके बाद रवि किशन की मां ने उन्हें 500 रुपए देकर मुंबई भाग जाने के लिए कहा. रवि किशन मुंबई तो आ गए, लेकिन उनके पास रहने के लिए ना तो घर था और ना ही खाने के लिए खाना. उनके पैसे भी धीरे-धीरे खत्म होने लगे थे. इस दौरान रवि किशन ने छोटे-मोटे काम भी किए. कई बार तो काम ना मिलने के कारण वो भूखी भी सो जाया करते थे. लेकिन रवि किशन आज अपनी मेहनत के दम पर भोजपुरी सिनेमा के जाने-माने सुपरस्टार बन गए हैं. आज उन्हें किसी पहचान की जरूरत नहीं है. रवि किशन एक बड़े राजनेता भी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.